मिट्टी का नन्हा दीया मनुष्य का एक प्राचीनतम आविष्कार है जिसका परिष्कार होता चला गया। आज तो हम कल्पना भी नहीं कर सकते कि हमारे आदिम मनुष्य ने गुफाओं से बाहर आकर जब पहले पहल मिट्टी के बर्तन बनाए होंगे और फिर दीए का आविष्कार किया होगा तो उसे कैसी अपार खुशी हुई होगी। मिट्टी से बनाया गया, मिट्टी में उगाए गए कपास की बत्ती और मिट्टी में ही उगाए गए सरसों या अन्य तिलहनों के तेल से भरे नन्हे दीए को गौर से देखें तो उसमें मानवीय श्रम, प्रतिभा और सौंदर्य के दर्शन होंगे।