इमरान खान को नई दोस्ती की पहल खुद आगे बढ़कर भारत के लिए करनी चाहिए। उनको नरेंद्र मोदी को सबसे पहले पाकिस्तान आने का न्यौता देना चाहिए। हो सकता है दोनों देशों की दुश्मनी दूर करने के लिए खुदा ने आपका ही चुनाव किया हो।